Sunday, August 1, 2021
Homeबिजनेसमध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और राजस्थान सहित देश के 13 राज्यों में पेट्रोल...

मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और राजस्थान सहित देश के 13 राज्यों में पेट्रोल 100 रुपए के पार पहुंचा, कई जगहों पर डीजल भी 100 के पार हुआ

  • Hindi News
  • Business
  • 20 June Petrol Price ; Today Petrol Price ; Petrol Price ; Petrol Diesel Price ; Petrol Crossed Rs 100 In 13 States Of The Country Including Madhya Pradesh, Maharashtra And Rajasthan, Diesel Also Crossed Rs 100 In Many Places

पेट्रोल-डीजल के दामों में लगी आग थमने को नाम ही नहीं ले रही है। आज इस महीने में 11वीं बार पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की गई है। राजस्थान, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश सहित देश के 13 राज्यों में पेट्रोल 100 रुपए लीटर के पार निकल गया है। वहीं राजस्थान के श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ में डीजल भी 100 रुपए लीटर से महंगा बिक रहा है। दिल्ली की बात करें तो यहां पेट्रोल 29 पैसे महंगा होकर 97.22 और डीजल 28 पैसे महंगा होकर 87.97 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है। इस महीने अब तक पेट्रोल 2 रुपए 99 पैसे और डीजल 2 रुपए 72 पैसे महंगा हो चुका है।

देश के प्रमुख शहरों में पेट्रोल-डीजल के दाम

शहर पेट्रोल (रुपए/लीटर) डीजल (रुपए/लीटर)
श्रीगंगानगर 108.37 101.12
अनूपपुर 108.01 99.04
परभणी 105.70 96.22
भोपाल 105.43 96.65
जयपुर 103.88 96.99
मुंबई 103.36 95.44
दिल्ली 97.22 87.97

13 राज्यों में पेट्रोल 100 के पार निकला
देश के 13 राज्यों में पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गया है। मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र और राजस्थान के सभी जिलों में पेट्रोल 100 रुपए पर पहुंचा गया है। वहीं बिहार, तेलंगाना, कर्नाटक, जम्मू-कश्मीर, मणिपुर, उड़ीसा, चंडीगढ़, तमिलनाडु और लद्दाख में भी कई जगहों पर पेट्रोल 100 रुपए लीटर के पार निकल गया है।

मई में पेट्रोल 4.11 और डीजल 4.69 रुपए महंगा हुआ
मई महीने की बात करें तो इसमें पेट्रोल-डीजल की कीमत में 16 बार इजाफा हुआ। इस दौरान पेट्रोल 4.11 और डीजल 4.69 रुपए महंगा हुआ है। इस साल की बात करें तो 1 जनवरी को पेट्रोल 83.97 और डीजल 74.12 पर था, जो अब 96.12 और 86.98 रुपए प्रति लीटर पर है। यानी 5 महीने से भी कम में पेट्रोल 12.15 और डीजल 12.86 रुपए महंगा हुआ है।

कच्चा तेल 74 डॉलर पर पहुंचा
इस सप्ताह बुधवार और गुरुवार को अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में थोड़ी राहत मिली थी। हालांकि, ग्लोबल डिमांड की वजह से शुक्रवार को फिर से बाजार चढ़ कर बंद हुआ था। अमेरिकी बाजार में इस सप्ताह कारोबार के बंद होते समय ब्रेंट क्रूड 0.43 डॉलर प्रति बैरल चढ़ कर 73.51 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया था। यूएस वेस्ट टैक्सास इंटरमीडियएट या डब्ल्यूटीआई क्रूड (WTI) भी 0.60 डॉलर बढ़ कर 71.64 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ था।

आने वाले दिनों में और महंगे हो सकते हैं पेट्रोल-डीजल
IIFL सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटी एंड करेंसी) अनुज गुप्ता कहते हैं कि आने वाले दिनों में कच्चे तेल की मांग बढ़ने से ये 75 डॉलर प्रति बैरल तक जा सकता है। इसके अलावा डॉलर भी अब मजबूत होकर 74 रुपए के पार निकल गया है, जो आने वाले दिनों में 75 रुपए तक जा सकता है। अगर कच्चा तेल 75 डॉलर और डॉलर 75 रुपए तक पहुंचता है तो आने वाले दिनों में पेट्रोल-डीजल 1 से 2 रुपए तक और महंगे हो सकते हैं।

पाकिस्तान के मुकाबले भारत में पेट्रोल पर दोगुना टैक्स
पड़ोसी देश पाकिस्तान में 52 रुपए लीटर में पेट्रोल मिल रहा है। हालांकि हमारे देश में पेट्रोल-डीजल महंगा नहीं है लेकिन सरकार के टैक्स लगाने के बाद ये बहुत महंगा हो जाता है। हमारे देश में पेट्रोल-डीजल का बेस प्राइस तो अभी 33 रुपए के करीब ही है। लेकिन केंद्र और राज्य सरकारें इस पर टैक्स लगाकर इसे 100 रुपए पर पहुंचा देती हैं।

इस पर केंद्र सरकार 33 रुपए एक्साइज ड्यूटी वसूल रही है। इसके बाद राज्य सरकारें इस पर अपने हिसाब से वैट और सेस वसूलती हैं, जिसके बाद इनका दाम बेस प्राइज से 3 गुना तक बढ़ गया है। वहीं पाकिस्तान की बात करें तो वहां पेट्रोल पर कुल 21.04 रुपए प्रति लीटर का टैक्स लगता है। जबकि भारत में 54 रुपए से भी ज्यादा टैक्स वसूला जाता है।

पेट्रोल-डीजल के महंगे होने से तेजी से बढ़ रही महंगाई
पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और मैन्युफैक्चरिंग लागत बढ़ने से थोक महंगाई दर रिकॉर्ड लेवल पर पहुंच गई है। कॉमर्स एंड इंडस्ट्री मिनिस्ट्री के मुताबिक थोक महंगाई दर मई में 12.94% पर पहुंच गई है। यह मई 2020 में -3.37% रही थी। होल सेल प्राइस इंडेक्स (WPI) आधारित महंगाई दर लगातार 5वें महीने मई में चढ़ी है। इससे पहले अप्रैल में भी दर 10.49% पर रही थी। सरकार की ओर से जारी थोक महंगाई में कहा गया कि क्रूड पेट्रोलियम, मिनरल ऑयल के चलते महंगाई बढ़ी है। क्योंकि इससे पेट्रोल, डीजल, नेप्था और मैन्युफैक्चरिंग प्रोडक्ट्स महंगे हुए।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments