Monday, September 20, 2021
Homeदुनिया90 दिन के लिए 3 एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष के लिए रवाना, स्पेस स्टेशन...

90 दिन के लिए 3 एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष के लिए रवाना, स्पेस स्टेशन का निर्माण कार्य पूरा करेंगे

लॉन्ग मार्च रॉकेट दक्षिणी पश्चिम चीन के गांसू प्रांत के गोबी रेगिस्‍तान से रवाना हुआ है। - Dainik Bhaskar

लॉन्ग मार्च रॉकेट दक्षिणी पश्चिम चीन के गांसू प्रांत के गोबी रेगिस्‍तान से रवाना हुआ है।

चीन ने 5 साल बाद एक बार फिर अपने अंतरिक्ष यात्रियों को एक खास मिशन के लिए अंतरिक्ष में रवाना किया है। गुरुवार को लॉन्ग मार्च-2FY12 रॉकेट अंतरिक्षयान Shenzhou-12 तीन अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर रवाना हुआ। ये अंतरिक्ष यात्री कुछ घंटे में चीन के बन रहे नए स्पेस स्टेशन Tiane पहुंच जाएंगे। चीन इसके जरिए पूरी दुनिया पर नजर रख सकेगा। चीनी मीडिया के मुताबिक, लॉन्ग मार्च रॉकेट दक्षिणी पश्चिम चीन के गांसू प्रांत के गोबी रेगिस्‍तान से रवाना हुआ। ये तीनों यात्री 90 दिनों तक अंतरिक्ष में रहेंगे। यहां वे स्पेस स्टेशन के निर्माण कार्य को पूरा करेंगे।

तीनों यात्री चीन की आर्मी का हिस्सा
चाइना मैन्ड स्पेस एजेंसी के डायरेक्टर सहायक जि किमिंग ने बताया कि अंतरिक्ष यान जियुक्वान सैटेलाइट लॉन्चिंग सेंटर से लॉन्च किया गया है। इसमें तीन अंतरिक्ष यात्री हैशेंग, लियु बोमिंग और तांग होंग्बो चीन के स्पेस स्टेशन के निर्माण के लिए रवाना हुए हैं। चीन ने पहली बार अपने अंतरिक्ष यात्रियों को स्पेस स्टेशन के निर्माण लिए भेजा है। CMSA के मुताबिक, चीन का ये 7वां मानवयुक्त मिशन है। मिशन के कमांडर नी हैशेंग पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) में एयरफोर्स पायलट हैं। इससे पहले भी वे दो स्पेस मिशन में भाग ले चुके हैं। लियु बोमिंग और तांग होंग्बो भी सेना के सदस्य है।

तीन अंतरिक्ष यात्री हैशेंग, लियु बोमिंग और तांग होंग्बो 90 दिन तक अंतरिक्ष में रहेंगे।

तीन अंतरिक्ष यात्री हैशेंग, लियु बोमिंग और तांग होंग्बो 90 दिन तक अंतरिक्ष में रहेंगे।

जाने से पहले गाया चीन का राष्ट्रीय गीत
लॉन्चिंग से पहले एक सेरेमनी में तीनों अतंरिक्ष यात्रियों ने समर्थकों और स्पेस मिशन में शामिल साथियों का अभिवादन किया। इस दौरान उन्होंने चीन का देशभक्ति गीत ‘ विदाउट द चाइनीज कम्युनिस्ट पार्टी, देयर वुड बी नो न्यू चाइना’ गाया। दरअसल, देश की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइन (CPC) के 100 साल पूरे होने पर ये मिशन शुरू किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अंतरिक्ष यात्री कोर मॉड्यूल में तैनात रहेंगे। चीन का नया स्पेस स्टेशन अगले साल तक बनकर तैयार हो जाएगा। इस स्टेशन के जरिए चीन पूरी दुनिया पर रख सकेगा। साथ पुराने होते इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (ISS) के मुकाबला करेगा। ISS अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा, रूस की रोस्कोमोस, जापान की जाक्सा, यूरोप की ईएसए और कनाडा की सीएसए की परियोजना है।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments