Thursday, July 29, 2021
Homeभारतरविशंकर प्रसाद ने 42 महीने पहले ट्वीट कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी...

रविशंकर प्रसाद ने 42 महीने पहले ट्वीट कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी थी, 2017 की उस पोस्ट को ट्विटर ने कॉपीराइट का उल्लंघन माना

  • Hindi News
  • National
  • 4 Years Ago, Ravi Shankar Prasad Had Paid Tribute To The Martyrs On The Occasion Of Vijay Diwas, Now After 4 Years, Twitter Has Taken Action On This Post.

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर और केंद्र सरकार के बीच चल रहे तनाव में नया ट्विस्ट देखने को मिला। ट्विटर ने IT मंत्री रविशंकर प्रसाद का अकाउंट शुक्रवार सुबह एक घंटे लिए बंद कर दिया था। इस कार्रवाई की वजह डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट (DMCA) का उल्लंघन माना गया। हालांकि, एक घंटे बाद अकाउंट को फिर से बहाल कर दिया गया।

जिस ट्वीट पर यह कार्रवाई की गई, वो 16 दिसंबर 2017 का है। फिलहाल, इस कंटेंट को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से हटा लिया गया है। ट्विटर की कार्रवाई के बाद रविशंकर प्रसाद ने कहा कि यह भारतीय IT कानूनों का उल्लंघन है। कंपनी को देश के कानूनों का पालन करना ही होगा।

IT मंत्री ने अकाउंट ब्लॉक होने की जानकारी सोशल मीडिया पर दी थी।

IT मंत्री ने अकाउंट ब्लॉक होने की जानकारी सोशल मीडिया पर दी थी।

42 महीने पहले विजय दिवस के मौके पर शहीदों को दी थी श्रद्धांजलि
जिस ट्वीट पर कार्रवाई की गई है, उसका आर्काइव मिला। इसमें IT मंत्री ने 16 दिसंबर 2017 को विजय दिवस के मौके पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी थी। पोस्ट के आर्काइव में एक अटैच इमेज का लिंक नजर आ रहा है। इसी इमेज पर किसी ने कॉपीराइट की शिकायत की, जिसके बाद ट्विटर ने पोस्ट हटाया और एक घंटे के लिए IT मंत्री का सोशल मीडिया अकाउंट ब्लॉक कर दिया।

एक्शन पर ट्विटर का जवाब
DMCA नोटिस के कारण मिनिस्टर (रविशंकर प्रसाद) के अकाउंट तक एक्सेस को अस्थाई रूप से प्रतिबंधित किया गया था। संबंधित ट्वीट को भी रोक दिया था। हमारी कॉपीराइट पॉलिसी के मुताबिक, हम कॉपीराइट ऑनर या उनके अथॉराइज्ड रिप्रजेंटेटिव्स की ओर से भेजी गई जायज शिकायतों पर एक्शन लेते हैं।

​​​​​​1998 से अमेरिका में लागू है डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट

  • डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट (DMCA) अमेरिका का कॉपीराइट एक्ट है। अक्टूबर 1998 में उस वक्त के अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने इस कानून को लागू किया था। क्लिंटन ने तब कहा था कि इस कानून को बनाने का मकसद किसी कंटेंट को चोरी होने से बचाना है और चोरी होने पर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने में मदद करना है। इसके तहत सभी तरह के डिजिटल प्रोडक्ट जैसे ऑडियो, वीडियो, टेक्स्ट, कंटेंट आते हैं।
  • ज्यादातर ब्लॉग लिखने वाले या कंटेंट क्रिएटर अपने कंटेंट को प्रोटेक्ट करने के लिए इस कानून का सहारा लेते हैं। कोई भी व्यक्ति यदि बिना परमिशन के किसी का कंटेंट कॉपी करता है तो DMCA के तहत उसकी शिकायत की जा सकती है।

नए IT नियमों को लेकर ट्विटर और सरकार में है टकराव

  • केंद्र सरकार और ट्विटर के बीच नए IT नियमों को लेकर विवाद चल रहा है। इस मामले में पिछले हफ्ते IT मिनिस्ट्री से जुड़ी संसदीय समिति के सामने ट्विटर के प्रतिनिधियों की पेशी हुई थी। समिति ने कंपनी के अधिकारियों से पूछा था कि क्या आप देश के कानून का पालन करते हैं?
  • इस पर ट्विटर के प्रतिनिधियों ने कहा- हम अपनी पॉलिसी को फॉलो करते हैं, जो देश के कानून के अनुसार है। इस दलील पर समिति ने आपत्ति जताते हुए कंपनी से तल्ख लहजे में कहा कि हमारे यहां देश का कानून सबसे बड़ा है, आपकी पॉलिसी नहीं।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments