Sunday, July 18, 2021
Homeदुनियाकम्युनिस्ट नेताओं की संपत्ति उजागर करने वाला ‘एप्पल डेली’ बंद होगा, लोकतंत्र...

कम्युनिस्ट नेताओं की संपत्ति उजागर करने वाला ‘एप्पल डेली’ बंद होगा, लोकतंत्र की आवाज था

  • Hindi News
  • International
  • ‘Apple Daily’, Which Exposed The Wealth Of Communist Leaders, Will Be Closed, Was The Voice Of Democracy
अखबार के मीडिया समूह के निदेशक मंडल ने बुधवार को एक बयान में कहा कि ‘हॉन्गकॉन्ग में मौजूदा परिस्थितियों’ के कारण​​​​​​​ उसका प्रिंट संस्करण और ऑनलाइन संस्करण शनिवार तक बंद हो जाएगा। - Dainik Bhaskar

अखबार के मीडिया समूह के निदेशक मंडल ने बुधवार को एक बयान में कहा कि ‘हॉन्गकॉन्ग में मौजूदा परिस्थितियों’ के कारण​​​​​​​ उसका प्रिंट संस्करण और ऑनलाइन संस्करण शनिवार तक बंद हो जाएगा।

  • निदेशक मंडल का बयान- मौजूदा परिस्थितियां ठीक नहीं हैं

हॉन्गकॉन्ग का लोकतंत्र समर्थक अखबार ‘एप्पल डेली’ बंद हो जाएगा। अखबार के मीडिया समूह के निदेशक मंडल ने बुधवार को एक बयान में कहा कि ‘हॉन्गकॉन्ग में मौजूदा परिस्थितियों’ के कारण उसका प्रिंट संस्करण और ऑनलाइन संस्करण शनिवार तक बंद हो जाएगा। पिछले हफ्ते संपादकों और कार्यकारी अधिकारियों की गिरफ्तारी और अखबार से जुड़ी 23 लाख डॉलर की संपत्ति की चीनी और हॉनगकॉन्ग सरकार द्वारा की गई जब्ती के बाद यह फैसला लिया गया है।

इससे पहले बुधवार को पुलिस ने राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालने के आरोप में एप्पल डेली के लिए सामाजिक मुद्दों पर कॉलम लिखने वाले ली पिंग को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आगे और गिरफ्तारियां कर सकती है। हॉन्गकॉन्ग की चाइनीज यूनिवर्सिटी में मीडिया लेक्चरर ग्रेस लेउंग ने कहा, ‘एप्पल डेली के बंद होने से सभी मीडिया संगठनों को इस बात का स्पष्ट संकेत मिलता है अगर वे संवेदनशील या महत्वपूर्ण राजनीतिक मुद्दों को छूते हैं तो उन पर गिरफ्तारी का खतरा मंडराता रहेगा।’

दूसरी ओर, कमेटी टू प्रोटेक्ट जर्नलिस्ट्स (सीपीजे) ने कहा है कि वह हाॅन्गकाॅन्ग की नेक्स्ट डिजिटल मीडिया कंपनी और एप्पल डेली अखबार के जेल में बंद संस्थापक जिमी लाई को 2021 ग्वेन इफिल प्रेस फ्रीडम अवार्ड से सम्मानित करेगी। वहीं, एप्पल डेली के खिलाफ कार्रवाई की अमेरिका, यूरोपीय संघ और ब्रिटेन ने आलोचना की है।

हाॅन्गकाॅन्ग में अफसरों की मनमानी को उजागर किया 26 साल पुराने इस अखबार ने चीन की कम्युनिस्ट पार्टी में बड़े पदों पर बैठे नेताओं की छिपी हुई संपत्ति का खुलासा किया, हाॅन्गकाॅन्ग में अफसरों की मनमानी को उजागर किया था। साथ ही यह अखबार हॉन्गकॉन्ग में लोकतंत्र समर्थक आंदोलन की प्रमुख आवाजों में से एक बन गया था। जिसके बाद अखबार के मुख्य संपादक जिमी लाई समेत पांच संपादकों और कार्यकारियों को राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालने के आरोप में पकड़ा गया है।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments