Monday, September 20, 2021
Homeमनोरंजनअयोध्या में कथावाचन कर रहे बिहार के DGP रहे गुप्तेश्वर पांडेय बोले-रिया...

अयोध्या में कथावाचन कर रहे बिहार के DGP रहे गुप्तेश्वर पांडेय बोले-रिया चक्रवर्ती पर किए औकात वाले कमेंट पर खेद है

पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे, जो सुशांत सिंह राजपूत मामले में काफी चर्चित नाम थे। दिवंगत अभिनेता के मामले की जांच के लिए बिहार और महाराष्ट्र सरकार के बीच तनातनी के दौरान वे सुर्ख़ियों में रहे। उन्होंने मीडिया से बातचीत में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ ‘औकात’ का बयान दिया था। बाद में जब पता चला कि इसे अपमानजनक माना गया था तो उन्होंने माफी मांगी थी।

हाल ही में जब पांडे से पूछा गया कि क्या उन्हें रिया चक्रवर्ती पर अपनी टिप्पणी पर पछतावा है। उन्होंने कहा कि उनके लिए औकात का अंग्रेजी में मतलब कद होता है। लेकिन उनका मानना है कि इसे अपमानजनक माना गया इसलिए उन्होंने माफी मांगकर अपने शब्दों को वापस ले लिया था।

क्या बोला था गुप्तेश्वर ने
सुप्रीम कोर्ट ने जब एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच सीबीआई के द्वारा करने का फैसला सुनाया था। तब बिहार के डीजीपी रहे गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा था कि यह न्याय की जीत है। रिया चक्रवर्ती के परिवार वालों की तरफ से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर कमेंट को लेकर डीजीपी ने कहा था कि उनकी औकात नहीं है कि नीतीश पर कुछ बोल सकें। नीतीश कुमार के सपोर्ट से ही सुशांत के परिवार वालों को न्याय मिलने की उम्मीद जगी है।

अयोध्या में कथा वाचन कर रहे
पांडेय ने पिछले साल विधानसभा चुनाव के पहले बिहार के DGP के पद से वीआरएस ले लिया था। वे चुनाव लड़ना चाहते थे। उनकी इच्छा थी कि वे बक्सर से विधायक का चुनाव लड़ें। जदयू के सदस्य भी बन तैयारी भी कर रहे थे, लेकिन ऐन वक्त पर टिकट नहीं मिल पाया। उसके बाद उनका राजनीति से मोह भंग होने लगा था। चुपचाप रहे। किसी से कोई शिकायत नहीं की। धीरे-धीरे ईश्वर की राह पकड़ी और अध्यात्म में रम गए। पांडेय इन दिनों अयोध्या में कथा वाचन कर रहे हैं। इस नए अवतार की खबर बाहर आई तो वह भी सामने आए।

एक्टिंग और सिंगिंग भी कर चुके
उन्होंने कहा, “एक समय ऐसा आता है जब आप जीवन के उद्देश्य को जानना चाहते हैं, और ईश्वर को जानना चाहते हैं। मैं कोई अपवाद नहीं हूं। मेरी दिलचस्पी अब केवल ईश्वर में है और यह परिवर्तन अचानक नहीं हुआ है। हम सोचते हैं कि भौतिक उपलब्धियां हमें खुश कर देंगी, लेकिन असली खुशी भगवान में है। मैं अब केवल भगवान की सेवा करना चाहता हूं।” गुप्तेश्वर पांडे का इस तरह का यह पहला रूप नहीं है। इससे पहले वो गायक के रूप में भी दिख चुके हैं। भगवान भोलेनाथ पर इनका एल्बम भी आ चुका है और उसमें एक्टिंग भी कर चुके हैं।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments