Thursday, July 29, 2021
Homeदुनिया30 जून को US और मेक्सिको बॉर्डर का दौरा करेंगे डोनाल्ड ट्रम्प,...

30 जून को US और मेक्सिको बॉर्डर का दौरा करेंगे डोनाल्ड ट्रम्प, बोले- सरकार ने सीमा का कंट्रोल अपराधियों के हाथ में सौंपा

  • Hindi News
  • International
  • Donald Trump Will Visit The US And Mexico Border On June 30, Said The Government Handed Over The Control Of The Border To Criminals
तस्वीर 18 जून 2019 की है। तब अमेरिकी राष्ट्रपति रहते डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका- मेक्सिको का दौरा किया था। - फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

तस्वीर 18 जून 2019 की है। तब अमेरिकी राष्ट्रपति रहते डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका- मेक्सिको का दौरा किया था। – फाइल फोटो

मेक्सिको बॉर्डर पर दीवार बनाने की परियोजना पर रोक लगाने और उसका फंड वापस लेने के बाइडेन प्रशासन के फैसले के बीच अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बॉर्डर के इलाके का दौरा करने का फैसला किया है। वे 30 जून को टेक्सास के गवर्नर के साथ इलाके का दौरा करेंगे। ट्रम्प की तरफ से ये जानकारी दी गई है। उन्होंने कहा कि मैंने टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट का आमंत्रण स्वीकार किया है। बाइडेन प्रशासन को अमेरिकी इतिहास में सबसे मजबूत, सुरक्षित बॉर्डर विरासत में मिली। कुछ ही हफ्तों में इसे एक आपदा क्षेत्र घोषित कर दिया गया है।

दरअसल, बाइडेन प्रशासन ने पिछले हफ्ते शुक्रवार को पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की मेक्सिको- अमेरिकी बॉर्डर पर दीवार निर्माण की महत्वाकांक्षी परियोजना का फास्ट ट्रक स्टेटस खत्म करने का फैसला किया है। इस परियोजना को पर्यावरण के नियम दरकिनार करने की छूट मिली थी। बाइडेन ने राष्ट्रपति पद संभालने के बाद दीवार के निर्माण पर रोक लगा दी थी।

बजट और मैनेजमेंट ऑफिस ने एक बयान में कहा है कि समूची दक्षिणी सीमा में दीवार का निर्माण और अमेरिकी टैक्सपेयर्स के अरबों डॉलर को खर्च करना समाधान नहीं है।

ट्रम्प बोले- अपराधियों को सौंपी देश की सीमा
ट्रम्प ने कहा है कि बाइडेन और हैरिस ने हमारी सीमा का कंट्रोल अपराधियों को सौंप दिया है। यहां ड्रग डीलर, MS-13 गिरोह, मानव तस्करी करने वालों और अपराधियों का स्वतंत्र शासन है। उन्होंने कहा कि हमारा राष्ट्र अब एक जंगल है। खतरनाक अपराधियों को यूएस के अंदर आजादी दी जा रही है।

बाइडेन के फैसले का विरोध
अमेरिका में इस सीमा से बिना जांच प्रवासियों के आने की आशंका के बाद अब इस फैसले का रिपब्लिकन सदस्यों ने विरोध शुरू कर दिया। कुछ रिपब्लिकन सांसद इस परियोजना को जारी रखने के पक्ष में हैं। बाइडेन इस परियोजना के 2 अरब डॉलर से अधिक कोष को वापस करना चाहते हैं।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments