Thursday, July 29, 2021
Homeभारतचंडीगढ़ में 7 किलोमीटर अंदर घुसे पंजाब के हजारों किसान, बैरिकेड्स तोड़ने...

चंडीगढ़ में 7 किलोमीटर अंदर घुसे पंजाब के हजारों किसान, बैरिकेड्स तोड़ने पर पुलिस ने बौछारें कीं

  • Hindi News
  • Local
  • Farmers Of Punjab And Haryana Will Enter The City Limits Today For A Peaceful March To The Governor’s House In Chandigarh, Police Have Sealed Many Roads In The City.

महीनों दिल्ली की बॉर्डर घेरकर बैठे किसानों ने शनिवार को आंदोलन में जान फूंकने की कोशिश की। पूरे पंजाब से हजारों किसान मोहाली के रास्ते चंडीगढ़ पहुंचे तो हरियाणा के किसानों ने पंचकूला के रास्ते चंडीगढ़ में प्रवेश किया। इसके बाद आंदोलन की शुरुआत हुई। आंदोलन करते हुए किसान चंडीगढ़ के करीब 6 से 7 किलोमीटर अंदर घुस गए। हालांकि, राजभवन के पास पुलिस ने उन्हें रोक लिया।

चंडीगढ़ में किसानों को रोकने के लिए लगाई पुलिस। फोटो लखवंत सिंह

चंडीगढ़ में किसानों को रोकने के लिए लगाई पुलिस। फोटो लखवंत सिंह

पंजाब के किसानों ने गवर्नर के नाम ज्ञापन चंडीगढ़ के डीसी मनदीप बराड़ को दिया और वहां से वापस लौट गए। किसानों का संयुक्त मोर्चे ने कहा था कि उनका मार्च शांतिपूर्ण रहेगा, पर कई जगहों पर किसानों ने बैरिकेड्स तोड़े और पुलिस ने उन पर पानी की बौछारें कीं।

मोहाली से चंडीगढ़ में आते किसानों पर पुलिस ने पानी की बौछार की।

मोहाली से चंडीगढ़ में आते किसानों पर पुलिस ने पानी की बौछार की।

इस दौरान प्रदर्शन कर रहे कुछ किसान घायल भी हो गए।

7 महीने से प्रधानमंत्री हमारी बात नहीं सुन रहे: किसान मोर्चा
किसानों ने कहा कि केंद्र सरकार ने तीन कृषि कानूनों को पास कर दिया है। इन्हें हटाने के लिए प्रधानमंत्री और मंत्रियों को पिछले 7 महीने से ज्यादा समय से कहा जा रहा है, लेकिन कोई बात सुन नहीं रहा।

किसानों ने तलवार लेकर प्रदर्शन किया

किसानों ने तलवार लेकर प्रदर्शन किया

किसानों ने कहा कि सरकार को जल्द से जल्द तीनों कृषि कानूनों को रद्द करना चाहिए नहीं तो इसी तरह के प्रदर्शन जारी रहेंगे।

दिल्ली से सटी सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन करते किसान।पॉइंट्स

दिल्ली से सटी सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन करते किसान।पॉइंट्स

पानी की बौछारों की परवाह किए बगैर चंडीगढ़ में 7 किलोमीटर तक अंदर आ गए किसान

पानी की बौछारों की परवाह किए बगैर चंडीगढ़ में 7 किलोमीटर तक अंदर आ गए किसान

  • चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस ने लोगों से अपील की है कि वे चंडीगढ़ आने के लिए वैकल्पिक रास्तों का इस्तेमाल करें।
  • किसानों के प्रदर्शन के चलते शनिवार शाम 5 बजे तक सड़कों पर ट्रैफिक प्रभावित रह सकता है।
  • पंचकूला में शाम 5 बजे तक पंचकूला की सड़कों पर ट्रैफिक प्रभावित रह सकता है।
  • चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड व पंचकूला बॉर्डर को सुबह 9 बजे के बाद सील कर दिया गया है।
किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल वाहन पर सवार होकर चंडीगढ़ की ओर गए

किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल वाहन पर सवार होकर चंडीगढ़ की ओर गए

चंडीगढ़ पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए सीटीयू की बसों को सड़क पर आड़े तिरछे लगा कर उन्हें रोका

चंडीगढ़ पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए सीटीयू की बसों को सड़क पर आड़े तिरछे लगा कर उन्हें रोका

चंडीगढ़ के डीसी सेक्टर-17/18 चौक पर पहुंच कर किसानों से मांगपत्र लिया।

चंडीगढ़ के डीसी सेक्टर-17/18 चौक पर पहुंच कर किसानों से मांगपत्र लिया।

चंडीगढ़ पुलिस के डीआईजी किसानों से मिले और उनके लिए पानी की व्यवस्था की

चंडीगढ़ पुलिस के डीआईजी किसानों से मिले और उनके लिए पानी की व्यवस्था की

इन ऑप्शनल रूट के इस्तेमाल की हिदायत
चंडीगढ़ से शिमला की ओर जाने वाले लोग पंचकूला जाने के बजाय सिसवां रोड से नयागांव, नालागढ़ और वहां से शिमला की ओर जा सकते हैं। शिमला से दिल्ली की ओर आने वाले लोग नालागढ़ से नयागांव होते हुए चंडीगढ़ से दिल्ली की ओर जा सकते हैं। यमुनानगर से पंचकूला की ओर जाने वाले लोग बरवाला से डेराबस्सी, जीरकपुर होते हुए चंडीगढ़ की ओर जा सकते हैं।

चंडीगढ़ में हंगामा बढ़ा, तो ये रास्ते बंद होंगे
मुल्लांपुर बैरियर, जीरकपुर बैरियर, सेक्टर 5-8 टर्न, सेक्टर 7-8 टर्न, सेक्टर-7 पीआरबी कट, गोल्फ टर्न, गुरसागर साहिब टर्न, मौलीजागरां ब्रिज, हाउसिंग बोर्ड ब्रिज के पास, किशनगढ़ टर्न और मटौर बैरियर।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments