Sunday, August 1, 2021
Homeभारतबिहार की डिप्टी CM का घर डूबा, यह हाल तब जब नगर...

बिहार की डिप्टी CM का घर डूबा, यह हाल तब जब नगर विकास विभाग BJP के पास; 2019 में डूबा था मोदी का बंगला

शुक्रवार देर रात हुई झमाझम बारिश के बाद 3 स्टैंड रोड स्थित डिप्टी CM रेणु देवी के घर में भरा पानी।

बिहार में मानसून ने लोगाें पर आफत की बारिश कर दी। इससे माननीय भी बच नहीं सके। डिप्टी CM रेणु देवी के सरकारी आवास का नजारा तालाब जैसा हो गया है। उनका आवास 3 स्टैंड रोड में है। इसे काफी सुंदर बनाया गया है। लेकिन सरकार की योजना पर जमी खामियों की परतें बारिश ने धो दीं। पूरे सरकारी आवास परिसर में सिर्फ पानी ही पानी है। जब दैनिक भास्कर की टीम वहां पहुंची तो बताया गया कि उप मुख्यमंत्री की तबीयत खराब है।

आपको बता दें कि अभी नगर विकास विभाग की जिम्मेदारी दूसरे डिप्टी CM तार किशोर प्रसाद के पास है। यानी विभाग की जिम्मेदारी BJP के पास ही है। ऐसे में रेणु देवी का आवास डूबना आश्चर्य में डालता है। फिलहाल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दिल्ली में आंख का इलाज कराने गए हैं। ऐसे में एक तरह से CM के प्रभार के तौर पर दोनों डिप्टी CM ही हैं। विधानसभा परिसर भी पानी-पानी हो गया है।

बिहार विधानमंडल में घुस गया बारिश का पानी।

बिहार विधानमंडल में घुस गया बारिश का पानी।

विधानमंडल भी जलमग्न
पटना में पूरी रात गरज के साथ इस मानसून सत्र की सबसे तेज बारिश हुई है। इससे राजधानी के कई इलाकों में जल जमाव हो गया है। पॉश इलाकों में घुटने तक पानी लग गया है। बिहार विधानमंडल भी जलमग्न हो चुका है।

मौसम विभाग के मुताबिक, 145.4 MM बारिश हुई और अभी भारी वर्षा के आसार भी बन रहे हैं। राज्य के सभी 38 जिलों में बारिश और वज्रपात को लेकर मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। भारी बारिश के साथ वज्रपात की चेतावनी देते हुए लोगों को सावधान किया जा रहा है।

बोरिंग रोड में जल जमाव से बढ़ी परेशानी।

बोरिंग रोड में जल जमाव से बढ़ी परेशानी।

राजधानी में 150 से अधिक मोहल्लों में जल जमाव
बारिश में पटना के 150 से अधिक मोहल्लों में पानी जमा हो गया है। रात लगभग 12 बजे के बाद शुरु हुई बारिश सुबह जाकर थमी। कंकड़बाग, पाटलिपुत्रा, दीघा, आशियाना, राजीव नगर, केसरी नगर, राजेंद्र नगर, मछुआ टोली के साथ कई ऐसे मोहल्ले हैं जहां लोगों का बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। नालियां पूरी तरह से चोक हो गई हैं और सड़क पर पानी है। कई इलाकों में तो शुक्रवार रात बारिश के बाद बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं।

1 अक्टूबर 2019 की बारिश की तस्वीर। पटना में भारी बारिश से सिटी में चलने लगी थी नाव।

1 अक्टूबर 2019 की बारिश की तस्वीर। पटना में भारी बारिश से सिटी में चलने लगी थी नाव।

बिहार में डिप्टी CM का आवास डूबने की यह पहली घटना नहीं
यह पहली दफा नहीं है कि बिहार में डिप्टी CM का आवास डूबा हो। 2019 की बारिश में तत्कालीन उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी अपने परिवार के साथ पानी में फंस गए थे। पटना के राजेंद्र नगर स्थित अपने घर में परिवार के साथ तीन दिनों से फंसे सुशील कुमार मोदी को NDRF की टीम ने रेस्‍क्‍यू किया था।

पटना में 2019 की बारिश में रेस्क्यू कर घर से बाहर लाए गए थे तत्कालीन डिप्टी CM सुशील कुमार मोदी। (फाइल फोटो)

पटना में 2019 की बारिश में रेस्क्यू कर घर से बाहर लाए गए थे तत्कालीन डिप्टी CM सुशील कुमार मोदी। (फाइल फोटो)

बाढ़ के बीच घर में फंसे डिप्टी CM के परिवार को कई परेशानियों का सामना करना पड़ा था। इस दौरान उनके घर न पानी था और न बिजली। उसी इलाके में अपने घर में फंसीं लोक गायिका शारदा ने भी मदद की गुहार लगाई थी।

2019 के बारिश की तस्वीर, लोगों को घरों से JCB से निकालना पड़ा था।

2019 के बारिश की तस्वीर, लोगों को घरों से JCB से निकालना पड़ा था।

पूर्व मुख्यमंत्रियों के भी डूब चुके हैं आवास
पटना में 2019 में हुई तेज बारिश में दो पूर्व मुख्यमंत्रियों सतेंद्र नारायण सिंह और जीतन राम मांझी के घरों में भी पानी घुस गया था। पटना में बोरिंग रोड स्थित पूर्व मुख्यमंत्री सतेंद्र नारायण सिंह, बीजेपी के सांसद राजीव प्रताप रूडी और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के आवास में भी पानी घुसा था।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments