Sunday, August 1, 2021
Homeबिजनेसकंपनी के 80% कर्मचारियों को मिलेगा बढ़ोतरी का फायदा, जनवरी में भी...

कंपनी के 80% कर्मचारियों को मिलेगा बढ़ोतरी का फायदा, जनवरी में भी किया था इंक्रीमेंट

विप्रो के सी1 बैंड के योग्य कर्मचारियों को जून से बढ़ी हुई सैलरी मिलने लगेगी। -सिम्बॉलिक तस्वीर - Dainik Bhaskar

विप्रो के सी1 बैंड के योग्य कर्मचारियों को जून से बढ़ी हुई सैलरी मिलने लगेगी। -सिम्बॉलिक तस्वीर

देश की दिग्गज आईटी कंपनियों में शुमार विप्रो ने कोरोनाकाल में दूसरी बार खुशखबरी दी है। कंपनी ने शुक्रवार को एक बार फिर सैलरी में बढ़ोतरी की घोषणा की। इस सैलरी बढ़ोतरी का कंपनी के करीब 80% कर्मचारियों को लाभ मिलेगा। यह सैलरी बढ़ोतरी 1 सितंबर 2021 से लागू होगी। विप्रो ने कैलेंडर ईयर 2021 में दूसरी बार सैलरी में बढ़ोतरी की है।

असिस्टेंट मैनेजर और इससे निचले कर्मचारियों की सैलरी बढ़ेगी

कंपनी की घोषणा के मुताबिक, यह सैलरी बढ़ोतरी बैंड3 तक के कर्मचारियों पर लागू होगी। इस बैंड में असिस्टेंट मैनेजर और इससे नीचे के कर्मचारी शामिल हैं। इससे पहले जनवरी 2021 में भी कंपनी ने बैंड3 तक के 80% कर्मचारियों की सैलरी में बढ़ोतरी करने की घोषणा की थी।

सी1 बैंड के कर्मचारियों की सैलरी जून से बढ़ी

विप्रो ने आगे कहा कि सी1 बैंड के योग्य कर्मचारियों को जून से बढ़ी हुई सैलरी मिलने लगेगी। इस बैंड में मैनेजर और इससे ऊपर के कर्मचारी शामिल हैं। कंपनी के मुताबिक, इस बैंड के ऑफशोर कर्मचारियों के लिए औसत बढ़ोतरी हाई सिंगल डिजिट में की गई है। जबकि ऑनसाइट कर्मचारियों के लिए मिड-सिंगल डिजिट में बढ़ोतरी की गई है। कंपनी ने कहा कि टॉप परफॉर्मर कर्मचारियों को ज्यादा सैलरी बढ़ोतरी के साथ रिवॉर्ड भी दिया जाएगा।

विप्रो का आट्रिशन रेट 12.1%

वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही के वित्तीय नतीजे जारी करते हुए विप्रो ने कहा था कि कर्मचारियों को अपने पास बनाए रखने के लिए कंपनी सभी कदम उठाएगी। चौथी तिमाही के दौरान विप्रो का आट्रिशन रेट 12.1% था। इसका मतलब यह है कि चौथी तिमाही में कंपनी छोड़ने वालों की दर 12.1% थी। विप्रो के सीएचआरओ सौरभ गोविल ने कहा था कि हम स्किल बेस्ड बोनस देने जा रहे हैं और यह तैयार है। वित्त वर्ष 2021 में कंपनी ने कैंपस के जरिए 10 हजार फ्रेशर्स की हायरिंग की है।

एक साल में दोबारा सैलरी बढ़ाने वाली दूसरी कंपनी

एक साल में दो बार सैलरी बढ़ाने वाली विप्रो देश की दूसरी कंपनी बन गई है। इससे पहले पिछले साल टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज यानी टीसीएस ने दो बार सैलरी बढ़ाने की घोषणा की थी। टीसीएस ने वित्त वर्ष 2021 की तीसरी तिमाही और अप्रैल 2021 में सैलरी बढ़ाने की घोषणा की थी। टीसीएस ने 6 महीने के अंतराल पर सैलरी बढ़ाई थी। टीसीएस के कर्मचारियों की सैलरी में 6 महीने के अंतर में ही 12-14% की बढ़ोतरी हुई थी। आईटी इंडस्ट्री ज्यादा आट्रिशन रेट के संकट से जूझ रही है।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments