Tuesday, August 3, 2021
Homeखेल21वीं सदी के बेस्ट टेस्ट बैट्समैन चुने गए, मुरलीधरन को बेस्ट टेस्ट...

21वीं सदी के बेस्ट टेस्ट बैट्समैन चुने गए, मुरलीधरन को बेस्ट टेस्ट बॉलर का अवॉर्ड; 50 एक्सपर्ट्स के पैनल और फैन्स ने दिया वोट

  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Sachin Tendulkar Voted Greatest Men’s Test Batsman And Muttiah Muralitharan Voted Greatest Men’s Test Bowler Of 21st Century
श्रीलंका के पूर्व स्पिनर मुरलीधरन ने टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा 800 विकेट लिए। वहीं सचिन के नाम टेस्ट में सबसे ज्यादा रन का रिकॉर्ड है। - Dainik Bhaskar

श्रीलंका के पूर्व स्पिनर मुरलीधरन ने टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा 800 विकेट लिए। वहीं सचिन के नाम टेस्ट में सबसे ज्यादा रन का रिकॉर्ड है।

भारत के महान बल्लेबाजों में शामिल सचिन तेंदुलकर को 21वीं सदी का सबसे महान टेस्ट बैट्समैन चुना गया है। शनिवार को स्टार स्पोर्ट्स के सर्वे में उन्हें कमेंटेटर्स, कोच और स्टाफ के पैनल और फैन्स से सबसे ज्यादा वोट मिले। इसके लिए 50 एक्सपर्ट्स के पैनल को ज्यूरी बनाया गया था। वहीं, श्रीलंका के पूर्व स्पिनर मुथैया मुरलीधरन को 21वीं सदी का सबसे महान टेस्ट बॉलर चुना गया।

50 एक्सपर्ट्स के पैनल और फैन्स ने की वोटिंग
50 एक्सपर्ट्स के पैनल में वीवीएस लक्ष्मण, इरफान पठान, सुनील गावस्कर और संजय बांगड़ जैसे पूर्व क्रिकेटर शामिल हैं। दूसरे स्थान पर श्रीलंका के कुमार संगाराकर रहे। सचिन की टक्कर संगाकारा के अलावा महेला जयवर्धने, ऑस्ट्रेलिया के स्टीव वॉ और रिकी पोंटिंग, वेस्टइंडीज के शिवनारायण चंद्रपॉल और रामनरेश सरवन, पाकिस्तान के इंजमाम उल हक और मोहम्मद यूसुफ, इंग्लैंड के एलिस्टेयर कुक, साउथ अफ्रीका के जैक कैलिस और भारत के राहुल द्रविंड़ जैसे बल्लेबाजों से थी।

सचिन और संगाकार के बीच कड़ा मुकाबला
विजेता की घोषणा करते हुए सुनील गावस्कर ने कहा कि बहुत ही कड़ा मुकाबला था। सचिन और संगाकार दोनों ही टेस्ट के आइकॉन हैं। पर 21वें सदी के सबसे महान बल्लेबाज के विजेता सचिन तेंदुलकर हैं। सचिन ने करियर में 200 टेस्ट खेले। इसमें उन्होंने 53.79 की औसत से 15921 रन बनाए। सचिन के नाम 51 सेंचुरी और 68 फिफ्टी हैं। इस दौरान उन्होंने 6 डबल सेंचुरी भी लगाई हैं। सचिन का हाईएस्ट स्कोर 248 रन है।

मुरलीधरन और स्टेन के बीच कड़ी टक्कर
वहीं, इस सदी के महान गेंदबाजों की लिस्ट में साउथ अफ्रीका के डेल स्टेन दूसरे नंबर पर रहे। मुरलीधरन की टक्कर स्टेन के अलावा ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉर्न और ग्लेन मैक्ग्रा, इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन, भारत के अनिल कुंबले, पाकिस्तान के वसीम अकरम और वकार यूनुस, श्रीलंका के रंगना हैराथ और न्यूजीलैंड के शेन बॉन्ड जैसे गेंदबाजों से था।

शेन बॉन्ड और शेन वॉर्न जैसे गेंदबाजों से मुकाबला
स्टार स्पोर्ट्स ने एक वीडियो भी रिलीज किया। इसमें लक्ष्मण ने कहा कि मेरा वोट मुरली के लिए जाएगा। मैंने करियर में कई महान गेंदबाजों का सामना किया और यह मेरे लिए गर्व की बात है, पर कोई भी मुरली जैसा महान नहीं था। उनके मैदान पर रहने से बल्लेबाजों में खौफ रहता था, चाहे वह इंडियन सब-कॉन्टिनेंट हो या विदेशी पिच।

मुरलीधरन सबसे ज्यादा दिन नंबर-1 बॉलर रहे
मुरलीधरन को महान स्पिनर्स में से एक माना जाता है। उन्होंने करियर में 133 टेस्ट में 800 विकेट लिए हैं। उनकी एक इनिंग्स में बेस्ट बॉलिंग 51 रन देकर 9 विकेट है। मुरली ने औसतन एक टेस्ट मैच में 6 विकेट चटकाए हैं। उनके नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा 1,711 दिनों तक नंबर-1 बॉलर की रैंकिंग पर बने रहने का रिकॉर्ड भी है। मुरली ने 2010 में टेस्ट में 800 विकेट लेते ही क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments