Monday, September 20, 2021
Homeभारतकोरोना वाली भीड़ लेकर नया ऑफिस खोलने पहुंचे संजय निषाद; सोसायटी के...

कोरोना वाली भीड़ लेकर नया ऑफिस खोलने पहुंचे संजय निषाद; सोसायटी के लोगों ने विरोध किया, कहा- रिहायशी इलाके में राजनीतिक कार्यालय खोलना गलत

  • Hindi News
  • Local
  • Sanjay Nishad Arrived To Open A New Office In A Residential Area With A Crowd Of Corona; People Protested, Said It Is Wrong To Open A Political Office In The Society

निषाद पार्टी एक बार फिर से चर्चा में है। निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद ने लखनऊ के रिहायशी इलाके में पार्टी का नया ऑफिस खोला है। इसका उद्घाटन करने पहुंचे संजय निषाद कार्यकर्ताओं की भीड़ लेकर पहुंचे। खुद बगैर मास्क के भी दिखे। कोरोना की तीसरी लहर की चर्चाओं के बीच रेजिडेंट सोसायटी में भीड़ देखकर स्थानीय लोग भड़क गए। लोगों ने पार्टी कार्यालय के खोले जाने का विरोध कर दिया। दो टूक कहा कि यहां आम लोग रहते हैं, इसलिए राजनीतिक कार्यालय खोलना ठीक नहीं है।

एक घंटे तक चला हंगामा, पुलिस ने कराया शांत
मामला गोमती नगर विभूति खंड स्थित पार्श्वनाथ प्लैनेट सोसायटी का है। यहां निषाद पार्टी के प्रवक्ता अजय सिंह का फ्लैट है। संजय ने यहां पार्टी का कार्यालय खुलवा दिया है। रविवार को इसका उद्घाटन करने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद खुद पहुंचे और अपने साथ बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं को भी ले आए। कोरोना के समय इतनी भीड़ देखकर सोसायटी में रहने वाले लोग आक्रोशित हो गए। पार्श्वनाथ प्लैनेट सोसाइटी के अध्यक्ष संजय सिंह का कहना है कि रेजिडेंट सोसायटी है। यहां ढाई सौ से तीन सौ परिवार रहते हैं।

बच्चे खेलते हैं। ऐसे में यहां राजनीतिक कार्यालय खोलना यहां ठीक नहीं है। हंगामे की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझाकर शांत कराया। करीब एक घंटे के बाद संजय निषाद ने पार्टी कार्यालय का उद्घाटन किया।

पार्टी ने दी सफाई- कुछ लोगों ने भड़काया था
हंगामे को लेकर संजय निषाद की पार्टी ने सफाई दी है। उन्होंने सूचना जारी कर बताया कि कार्यकर्ताओं को प्रादेशिक कार्यालय पर आने के लिए कहा गया था। कुछ शरारती लोगों ने कार्यकर्ताओं को यहां बुला लिया। पार्श्वनाथ प्लैनेट सोसाइटी में स्थित फ्लैट से केवल डिजिटल काम होंगे। यहां कार्यकर्ताओं की भीड़ नहीं जुटेगी। संजय निषाद ने पार्टी कार्यालय पर सुरक्षा बढ़ाने की मांग की।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments