Tuesday, September 21, 2021
Homeबिजनेससभी वाहनों के लिए लागू होगा नया फॉर्मेट, ज्यादा प्रदूषण पर अमान्य...

सभी वाहनों के लिए लागू होगा नया फॉर्मेट, ज्यादा प्रदूषण पर अमान्य पर्ची दी जाएगी

  • Hindi News
  • Business
  • Vehicle Pollution, Govt Makes PUC Certificate For All Vehicles Uniform Across Country

केंद्र सरकार ने वाहनों के पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल (PUC) यानी प्रदूषण प्रमाण पत्र को लेकर बड़ा फैसला लिया है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के नोटिफिकेशन के मुताबिक, अब देश में सभी वाहनों के लिए एकसमान प्रदूषण प्रमाण पत्र होगा। इन सभी प्रदूषण प्रमाण पत्रों का डाटा नेशनल रजिस्टर से लिंक होगा। इसके अलावा मंत्रालय ने ज्यादा प्रदूषण होने पर अमान्य पर्ची देने की पहली बार व्यवस्था की है।

प्रदूषण प्रमाण पत्र पर क्यूआर कोड होगा

प्रदूषण प्रमाण पत्र का एकसमान फॉर्मेट लागू करने के लिए मंत्रालय ने सेंट्रल मोटर व्हीकल रूल्स 1989 में बदलाव किया है। नोटिफिकेशन के मुताबिक, प्रदूषण प्रमाण पत्र पर एक क्यूआर कोड छपा होगा। इस क्यूआर कोड में वाहन, वाहन के मालिक और उत्सर्जन से जुड़ी जानकारी होगी। मंत्रालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक, यह नोटिफिकेशन 14 जून को जारी किया गया है।

प्रदूषण प्रमाण पत्र में यह जानकारी होगी

बयान में कहा गया है कि नए प्रदूषण प्रमाण पत्र में वाहन के मालिक का मोबाइल नंबर, नाम, पता, वाहन का इंजन नंबर और चेसिस नंबर लिखा होगा। वाहन के मालिक का नंबर अनिवार्य होगा, ताकि प्रमाण पत्र की वैधता और फीस को लेकर मैसेज भेजा जा सके।

ज्यादा प्रदूषण पर मिलेगी अमान्य पर्ची

मंत्रालय ने कहा है कि देश में पहली बार ज्यादा प्रदूषण होने पर अमान्य पर्ची की व्यवस्था शुरू की जा रही है। इसके तहत तय सीमा से ज्यादा प्रदूषण होने पर वाहन मालिक को एक समान फॉर्मेट में अमान्य पर्ची दी जाएगी। इस पर्ची को वाहन की सर्विसिंग के समय सर्विस सेंटर पर दिखाया या इस्तेमाल किया जा सकेगा। यदि प्रदूषण जांच केंद्र की डिवाइस सही तरह से काम नहीं कर है तो दूसरे केंद्र पर जांच कराई जा सकेगी।

शक होने पर जांच के लिए कह सकेंगे अधिकारी

बयान के मुताबिक, यदि अधिकारी को शक है कि मोटर व्हीकल उत्सर्जन के तय मानदंड़ों का पालन नहीं कर रहा है तो वह प्रदूषण की जांच के लिए कह सकेगा। ऐसी जानकारी वाहन के ड्राइवर या उसमें मौजूद जिम्मेदार व्यक्ति को लिखित में या इलेक्ट्रॉनिक तरीके से दी जाएगी। वाहन की ऑथराइज्ड सेंटर पर जांच करानी होगी। यदि ड्राइवर या जिम्मेदार व्यक्ति वाहन की जांच नहीं कराता है या वाहन का प्रदूषण मानदंड़ों के अनुरूप नहीं मिलता है तो ऐसे वाहन के मालिक पर जुर्माना लगाया जाएगा।

मानदंड़ों का पालन नहीं करने पर लंबित होगा रजिस्ट्रेशन

मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि यदि कोई वाहन प्रदूषण से संबंधी मानदंड़ों का पालन नहीं करता है तो रजिस्टरिंग अथॉरिटी ऐसे वाहनों का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट निलंबित कर सकेंगी। इसके अलावा वाहन को दिए जाने वाले सभी परमिट भी निलंबित कर दिए जाएंगे। यह निलंबन वैध प्रदूषण प्रमाण पत्र पाने तक लागू रहेगा।

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments